कविता कोशिश करने वालों की हार नहीं होती कविता, Koshish karne walon ki haar nahi hoti poem, Koshish karne walon ki poem lyrics

Motivational thoughts in hindi पर आज हम पढ़ेंगे भारत के एक प्रसिद्ध कवि सोहनलाल द्विवेदी जी की प्रसिद्ध कविता कोशिश करने वालों की हार नहीं होती कविता, Koshish karne walon ki haar nahi hoti poem in hindi by Sohanlal Dwivedi, Koshish karne walon ki poem lyrics, Koshish karne walon ki kabhi haar nahin hoti poetry in hindi.


कोशिश करने वालों की हार नहीं होती कविता, Koshish karne walon ki haar nahi hoti poem in hindi by Sohanlal Dwivedi -:


लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती।

कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।।


नन्हीं चींटी जब दाना लेकर चलती है।

चढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती है।

मन का विश्वास रगों में साहस भरता है।

चढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता है।


आख़िर उसकी मेहनत बेकार नहीं होती।

कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।।


डुबकियां सिंधु में गोताखोर लगाता है।

जा जाकर खाली हाथ लौटकर आता है।

मिलते नहीं सहज ही मोती गहरे पानी में।

बढ़ता दुगना उत्साह इसी हैरानी में।


मुट्ठी उसकी खाली हर बार नहीं होती।

कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।।


असफलता एक चुनौती है, स्वीकार करो।

क्या कमी रह गई, देखो और सुधार करो।

जब तक न सफल हो, नींद चैन को त्यागो तुम।

संघर्ष का मैदान छोड़ मत भागो तुम।


कुछ किये बिना ही जय जयकार नहीं होती।

कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।।


Thank you for reading कवि सोहनलाल द्विवेदी जी की प्रसिद्ध कविता कोशिश करने वालों की हार नहीं होती कविता, Koshish karne walon ki haar nahi hoti poem in hindi by Sohanlal Dwivedi, Koshish karne walon ki poem lyrics, Koshish karne walon ki kabhi haar nahin hoti poetry in hindi.


अन्य लेख -:

-- मेरा देश बड़ा गर्वीला कविता

-- सच है विपत्ति जब आती है कायर को ही दहलाती है कविता

-- अग्निपथ कविता

-- कृष्ण की चेतावनी कविता

-- हिन्दू तन मन हिन्दू जीवन रग रग हिन्दू मेरा परिचय कविता

-- अल्बर्ट आइंस्टीन के अनमोल विचार

-- डॉ. राम मनोहर लोहिया के विचार

-- शहीद भगत सिंह के विचार


Please Do Subscribe -: Youtube Channel


Post a Comment

Previous Post Next Post